छंदकार – बोधन राम निषादराज ” विनायक”

Date:

नवरात्रि के पावन पर्व में माता रानी की जसगीत

जीवन परिचय//

छंदकार का नाम-बोधन राम निषादराज “विनायक”
पत्नी का नाम-श्रीमती शांति देवी निषाद
पिता का नाम-श्री अघनू राम निषाद
माता का नाम-स्व.बुधियारिन बाई निषाद
जन्मतिथि-15/02/1973
जन्मस्थान- थान खम्हरिया,जिला-बेमेतरा
पुत्री – कु.लतारानी निषाद
पुत्र – कुलेश्वर निषाद
शिक्षा- M.Com.वाणिज्य,डी.एड.
शारीरिक स्थिति – जन्म से दिव्यांग
सम्प्रति/व्यवसाय- व्याख्याता (वाणिज्य विभाग), शास.उच्च.मा.वि.सिंघनगढ़, सहसपुर लोहारा, जिला – कबीरधाम (छ.ग.)

सम्मान-

(1) आंचलिक भाषा साहित्य संस्था (हरियाणा) द्वारा “स्व.फणीश्वर नाथ रेणू” सम्मान 2018.

(2) “छंद के छ” स्थापना दिवस समारोह सिमगा द्वारा सम्मान पत्र 2018.

(3) छत्तीसगढ़ कलमकार मंच द्वारा सम्मान पत्र 2018.

(4) “उम्मीद की किरण – साहित्य मंच” गुजरात द्वारा “साहित्य तुलसी सम्मान” 2018 .

(5) “कृति कला साहित्य सम्मान समारोह”, सीपत,जिला-बिलासपुर द्वारा “कृति सारस्वत सम्मान” 2018.

(6) प्रजातंत्र का स्तंभ समूह द्वारा प्रदत्त सम्मान “प्रजातन्त्र का स्तंभ गौरव” 2019.

(7) “छन्द के छ” तीसरा स्थापना दिवस सम्मान जिला-कबीरधाम 2019.

(8) हिंदी भाषा डॉट कॉम,इंदौर म.प्र.द्वारा- “अभिनन्दन पत्र” -2019.

(9) राष्ट्रिय कवि चौपाल कोटा,राजस्थान द्वारा- “राष्ट्रभाषा गौरव” सम्मान – 2019.

(10) वक्ता मंच रायपुर द्वारा – कलमकार सम्मान पत्र 2020.

(11) छत्तीसगढ़ केवट(निषाद) साहित्य परिवार द्वारा – “वीरांगना बिलासा देवी साहित्य सम्मान” 2022

(12) “छंद के छ” के द्वारा “छत्तीसगढ़ी छंद रतन सम्मान” 2022.

(13)”भारत को जाने” महाकाव्य में “मेघालय राज्य की प्राकृतिक सौंदर्य का वर्णन दोहा और चौपाइयों के माध्यम से करने हेतु “इण्डिया बुक ऑफ रिकार्ड” 2022 और “वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड” 2022.

(14) “छंद के छ” के द्वारा “छत्तीसगढ़ी छंद रतन सम्मान” 2023.

(15) अन्य स्थानीय साहित्यिक मंचों द्वारा अनेकों सम्मान।

प्रकाशित पुस्तकें –

(1) छत्तीसगढ़ी गीत संग्रह- “मोर छत्तीसगढ़ के माटी” (2018)
(छ.ग.राजभाषा आयोग रायपुर से प्रकाशित)

(2) हिंदी गज़ल संग्रह – “यार तेरी क़सम” (2019)
(बुक रिवर प्रकाशन लखनऊ,उ.प्र.)

(3) छत्तीसगढ़ी भजन संग्रह-“भक्ति के मारग” (2020)
(छ.ग.राजभाषा आयोग रायपुर से प्रकाशित)

(4) छत्तीसगढ़ी छंद संग्रह”अमृतध्वनि”(2021)
(छत्तीसगढ़ी का प्रथम छंद, छ.ग.राजभाषा आयोग रायपुर से प्रकाशित)

(5) छत्तीसगढ़ी छंद संग्रह-“छंद कटोरा” (2022)
(वैभव प्रकाशन रायपुर)

(6) छत्तीसगढ़ी छंद संग्रह – “हरिगीतिका छंद” (2023)(छत्तीसगढ़ी का प्रथम छंद, वैभव प्रकाशन रायपुर)

(7) छत्तीसगढ़ी -“आल्हा छंद जीवनी” (2023)
(छ.ग.राजभाषा आयोग,रायपुर से प्रकाशित)

(8) छत्तीसगढ़ी छंद संग्रह- “त्रिभंगी छंद”
(पाण्डुलिपि)

(9) छत्तीसगढ़ी बाल कविता संग्रह- “चंदा मामा” (पाण्डुलिपि)

(10) छत्तीसगढ़ी गज़ल संग्रह- “मया के फूल” (पाण्डुलिपि)

वर्तमान पता–
बोधन राम निषादराज”विनायक”, वार्ड न.(01) जमातपारा ,नगर पंचायत+तहसील, सहसपुर लोहारा, जिला-कबीरधाम (छ.ग.)
पिन कोड न. = 491995
मोबाइल न. = 9893293764
ईमेल:
bodhanramnishad@gmail.com

माता रानी अंबिके, कर देना शुभ काज।
आए तेरे द्वार पर, रखना सबकी लाज।।
रखना सबकी लाज,शरण में आज तिहारे।
देखो हाहाकार, देश में मचा हमारे।।
कहे विनायक राज,करें क्या समझ न आता।
तुमसे हैं अब आस,बचा लो जग को माता।।
(2)
कहना मेरा मानलो, हे जगजननी मात।
जोत जलाऊँ आपकी,नव दिन अरु नवरात।।
नव दिन अरु नवरात, करूँ सेवा मैं माता।
तुम हो मेरी मात,तुम्हीं हो भाग्य विधाता।।
कहे विनायक राज,शरण अब तेरे रहना।
कृपा करो माँ आज,यही तुमसे है कहना।।
(3)
जग जननी भव तारणी,भव से करना पार।
जीवन नैया आ खड़ा,बीच भँवर मझधार।।
बीच भँवर मझधार,मातु अब पार लगाना।
काल खड़ा है द्वार, अम्बिके हमें बचाना।।
कहे विनायक राज,दुखों की तुम हो हरनी।
विपदा में संसार, उबारो हे जग जननी।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

कांग्रेस पार्टी लोहारा को बड़ा झटका

नगर पंचायत अध्यक्ष व पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष भाजपा...

दो दिवसीय कबीर टेकरी मेला सहसपुर

प्राचीन स्थल और राजा परिवार का गांव सहसपुर प्रतिवर्ष अनुसार...

वनांचल रेंगाखार कला के मंडी में पड़ी बार दाने की अकाल

कवर्धा: रेंगाखार कला सुदूर वनांचल ग्राम रेंगाखार कला की...